Uttarakhand Glacier: Joshimath में ग्लेशियर फटने से तबाही, कई लोगों के फंसे होने की आशंका



Chamoli Glacier Breaks: उत्तराखंड (Uttarakhand) के जोशीमठ (Joshimath) में बड़ा हादसा हुआ है. जोशीमठ (Joshimath) में तपोवन इलाके …

Related Posts

37 thoughts on “Uttarakhand Glacier: Joshimath में ग्लेशियर फटने से तबाही, कई लोगों के फंसे होने की आशंका

  1. ये जो ग्लेशियर फटा है तबाही हुई है इसमें बीजेपी का हाथ है – रवीश कुमार

  2. सरकार की गलती हैं..
    उसकी गंदी मानसिकता की वजह से मासूम लोगों को जान से जाना पड़ा 🥺

  3. प्रक्कती तो अपना रंग दिखाए गें जब इंसान ही अपना रंग रहा है

  4. दूध पीगयी बन्दर और माखन ले गयी बिल्ली,

    ढूंढते हुए सब दौड़पड़े सारे जनता दिल्ली.

    ये देखके मंत्री जी ने निकली अपनी रैली,

    बन्दर को खम्बे पे चढाई और बील्ली पे बजाई ताली.

    यूँ ट्यूब से हवा निकली और रस्ते पे कील हज़ारों बोये, तोड़ दिया सब अंदर की जाल (Internet)ताके पकड़ सके न कोई.

    ये देखके दुखिया किसान बीच रास्ते रोये, अंदर की बात ये रेहना जॉब सारी बिदेशी पंची चितर पित्तर मुन्हीकी किताब से एकक ही साथ गए,

    कोसिस लांखो करले सारी पर मंत्रीजी को ये समझ न आये, बंद किया था सब कुछ फिरभी आवाज़ कहाँ से आये?

    अरे मुझे न दिखी कोई काली बील्ली तो फिर क्यों तू आये दिल्ली? जा के तू घर बैठ जा अब हम होगये नशे में टल्ली.

    धृत रास्त्र सा अँधा हो तू जब, न देख सकेगा कोई रंग,

    चाहे साडी जनता करले महा भारत में भारी भरकम जितनी जंग.

    आजतक न बचा हे कुछ इस रिपब्लिक भारत में, बिक गयी थी कब से तेरी दूर दर्शन

    कैसे तू अब बोल सकेगा, गलत दिखती हे मेरे नयी दिल्ली टेलीविज़न?

  5. अल्लाह हिफाज़त करे सबकी , और धन्यबाद सही और पूर्ण रिपोर्ट देने के लिए ।

  6. Top class reporting I must say. Can't believe it's coming from Indian media. to the point and so much in detail👏 Reporter must be native to that place. NDTV rarely dissapoints

  7. God must bless all affected with recovery and safety…however As per assessment of RUBBISH MEDIA..Godi Media is responsible for this tragedy… RUBBISH JI and Ratti Ji is waiting for foreign comments as matter cannot be termed as internal..

  8. Sab cheej ki ek bat nature ko destory karo tum khatam ho jaoo ga bus itna jann lo.. Ya bitter truth hai and we have to accept it at any how

  9. क्या ग्लेशियर बम विस्फोट से तोड़ा गया
    ऐसा तो नहीं कहीं किसान आंदोलन से ध्यान भटकाना मकसत हो,
    कृपया कर सेटेलाईट issues करवाना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *