News point | kisan news, kisan andolan | live kisan rally | farmers protest | modi sarkar | #DBLIVE



Information level | kisan information, kisan andolan | stay kisan rally | farmers protest | modi sarkar | #DBLIVE ghazipur border stay,ghazipur border kisan andolan,ghazipur …

Related Posts

39 thoughts on “News point | kisan news, kisan andolan | live kisan rally | farmers protest | modi sarkar | #DBLIVE

  1. Jai Jawan Jai Kisan
    भाड़ में जाये नकली आंदोलन वाला किसान
    Jai Hindustan🇮🇳

  2. Pakistani PM, Imran Khan extended the hands of friendship with India by opening the door for Sikhs and presented them Gurdowara Sahib in a very short time where as PM Modi Ji always looked at Sikhs doubtfully and questioned their patriotism and delayed the construction. After seeing the pressure of Sikhs he reluctantly accepted to open corridore to Gurdowara Sahib but with a lot of restrictions. PM Pakistan, Imran Khan made a second attempt by releasing the captured pilot of Indian Air Force as a gesture of friendship and peace but PM Modi Ji continued his harsh policies towards peaceful Pakistan. It is clear now that Modi do not trust Sikhs people as loyal to India. These farmers are hindu, muslims, christian, sikhs and Dalits they are all Indian and they have nothing to do with the politics. They are asking something very legitimate for their rights. PM India, Modi Ji is the servent of Janta, not the other way around. I wish farmer brother and sisters will win their demand and then they must charge PM Modi Ji with the killing of loyal Dalit soldiers who were killed because of the greed and racism of Modi Sarkar. After having seeing Arnab Goswamee's leak, things are clear and it is a FIT CASE AGAINST MODI FOR A MURDER TRIAL. I love your excellent coverage. Love from Canada.

  3. इन कुत्ते किसान नेताओं ने इस लड़के को मार मार कर झूठ बुलवाया है , लड़के ने खुद बताया बाद में.
    इसको बोलते हैं राजनीती .

  4. ये किसान नहीं कौरवसेना हैजीत का परचम लहराना है।

  5. अखिल भारतीय परिवार Party.
    आ रहे हैं हम, च रहे हैं हम.✌
    2024 में सरकार बना रहे हैं हम.

  6. दमन कारी नीतियों द्वारा सरकार हर कानून पास करवाना चाहती है लोगों को हिन्दू मुसलमान में उलझ कर देश को बेकूफ़ बना रही है देखना किसान आंदोलन को दबाने के लिए हिन्दू मुस्लिम का कोई इससु चालू हो जाएगा

  7. Modi Shah RSS ke din pure ho gaye. An achhe din ayenge jab ye choro ka desh nikal hoga. May GOD bless each child of India with good employment with excellent future they all deserve. Ab hindu- muslim ka tandav desh nahi sahan karega.

  8. मार्केट ampc चाहिए- दिए
    MSP रेट चाहिए – दिए
    अलग न्याय चाहिए – दिया
    संशोधन समिति चाहिए – देदी
    बिल रुकना है – रोका
    कान में ऊँगली चाहिए – रुको ..

  9. Rss nay 67 yers wate kea danga fsad bay gonah insano ka khon bhaya arop moslim per lgaya aje bhe bay gonah moslim jaill min hen yeh sab kay bad satta mily he asan nhe he htana Rss serkar ko htana he to shadat dens hoga han ek bat saf hogi ur sabit hogi ke moslimon ko gaddar kahnay walay hindu aje woh dash kay gaddar hin

  10. Modi ji zindabad. Kisan andolan flop ho gata kisanon ki wapsi shuroo ho gai.leadronmen phoot.Njp ka koi vikalp nahin Lisan phir NJP ko jitayen he

  11. 👎😢👎😢चायवाला एक ऐसा डायलॉग जिंदगी में आया कि भारत के लोगों की जिंदगी बदल गई,बचपन में सब लोगों ने वो कहानी सुनी होगी घोड़ा वाले से मदद के नाम पर एक लंगड़ा भिकारी डाकू बन कर घोड़ा लेकर भाग निकला, मालिक ने आवाज देकर पुकारा किसी से बताना मत कि मैंने लगड़े भिकारी का रूप धारण करके मदद के लिए घोड़े पर सवारी किया था नहीं तो लंगड़े और भिकारी कि लोग मदद करना छोड़ देंगे वैसे ही आने वाले समय में किसी गरीब पर कैसे सहानुभूति बनेग,भारत के सारे युवा किसान मजदूर मध्यमवर्गीय आदमी समझ सकते हैं.

  12. ✌💯✌💯संविधान हटाकर मनुस्मृति लाने वालों का प्लान चौपट हो गया,85%बहुजन दलित सिख मुस्लिम पिछड़ा युवा किसान एक हो चुके हैं,मनुवादी ब्रह्मणवादी के देश तोड़ने की बात असफल हो चुकी है जो किसानों और युवा को नंगा भूखा अशिक्षित फ्री का गुलाम देखना चाहते थे, संविधान का बाल बांका भी नहीं होगा,अभिसार रवीश अंजुम विनोद प्रसून भी एक्सपोज हुए हैं.

  13. किसानों के तथाकथित नेता या तो मुर्ख है जो किसानों के हितों को नहीं समझ पा रहे हैं अथवा धुर्त हैं जो किसानों से गद्दारी कर अपने निजी स्वार्थ को साधने का हर सम्भव प्रयास कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *